16 March 2020

दुनिया में बढ़ते कोरोना वाइरस के प्रकोप को थामने के लिए कीजिये शांति जप | Jain Stuti Stavan

दुनिया में बढ़ते कोरोना वाइरस के प्रकोप को थामने के लिए कीजिये शांति जप

देश-दुनिया में कोरोना वायरस का बढ़ते प्रकोप को लेकर आमजनता दहशत में हैं और बचाव के लिए जागरूकता फैलाने के साथ तरह तरह के विकल्प ढूढ रहे है। भारत के बड़े या छोटे शहर में धार्मिक अनुष्ठानों का भी क्रम शुरू हो गया है। कोरोना के प्रकोप को थामने के लिए के लिए जैन मंदिर में शांति अनुष्ठान की शुरुआत हो रही है । विशेष अनुष्ठान के जरिए कोरोना के कहर को रोकने के लिए प्रार्थना करें  ।

गंभीर बीमारियों का प्रकोप दुनिया में आता रहा है, जिसके उपचार में धार्मिक अनुष्ठान को भी खासा महत्व दिया जाता रहा है। हमेशा से विपत्ति आने पर निवारण के लिए हवन और जप का सिलसिला चलता रहा है। अब जब देश-दुनिया में कोरोना वायरस का प्रकोप आने से लोगों की जान जा रही हैं और डॉक्टर मरीजों के उपचार के साथ दवाओं की खोज में जुटे हैं। वहीं दूसरी ओर जैन धर्म के आचार्यों ने कोरोना के प्रकोप को थामने के लिए शांति जप अनुष्ठान शुरू किया है। देशवासियों से एक ननुरोध है की श्रीशांतिनाथ विधान व एक जाप करें ।

मंदिर में सुबह अभिषेक के बाद शांति विधान का आयोजन करें । भगवान आदिनाथ व पार्शवनाथ का अभिषेक करें  और कोरोना वायरस से शांति के लिए शांतिधारा करें । विधान में मंत्रों का उच्चारण करके विश्व की आपदा के निवारण की प्रार्थना कीजिये।  और विश्व में शांति के लिए महाहवन में आहुति देते हुए 108 बार मंत्र जप कीजिये । कोरोना वायरस से शांति के लिए श्री शांति अनुष्ठान व एक जाप करें। सब जीव को जीने का हक़ हर हम भी जिए और दुसरो को भी जीवन दान कीजिये|

Post a comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search